जल संसाध Class 10th Chapter-3 Ncert

जल संसाध Class 10th Chapter-3 Ncert 

इस अध्याय के सभी महत्वपूर्ण बहुविकल्पी प्रश्न-उत्तर का हल दिया गया है। वार्षिक परीक्षा में शामिल होने से पहले इन प्रश्नों की तैयारी अवश्य कर लें। हमारा वेबसाइट नॉट एनo सीo ईo आरo टी में कक्षा दस के सभी विषयों के प्रश्न उत्तर उपलब्ध है तथा इन सब को तैयार करते समय बहुत सावधानी बरती गई है फिर भी पुस्तक का सहारा अवश्य लें क्योंकि यहां पर उपलब्ध जानकारी से किसी भी प्रकार की हनी के लिए इस वेबसाइट के कर्ता-धर्ता जिम्मेदार नहीं होंगे।

1.निमनलिखि प्रश्नों के उत्तर लगभग 30 शब्दों में दीजिए। 

(i)व्यखाय करें कि जल किस प्रकार  नवीकरण योग्य संसाधन है? 

Ans-जल एक नवीकरणीय संसाधन है क्योंकि मुख्य रूप से उपयोग किया सभी पानी समुद्र में समाप्त हो जाता है और पुन: यह जल वाष्प के रूप में हाइडोलॉजिकल चक्र में प्रवेश करता है और वर्षा के रूप में मिठा पानी के रूप में नवीकृत हो जाता है। 

(ii)जल दुर्लभता क्या है और इसके मुख्य कारण क्या हैं? 

Ans-किसी क्षेत्र में उस क्षेत्र के जल की आवश्यकता को पूरा करने के लिए पर्याप्त स्रोत न होना जल दुर्लभता कहा जाता है। इसका मुख्य कारण बढ़ती जनसंख्या, कम वर्षा, अतिशेषण तथा असमान जल भी है। 

(iii)बहुद्देशीय परियोजनों से दोनो वाले लाभ और हानियों की तुलना करें। 

Ans-वैसे परियोजना जिसका बहुद्देश्य एक साथ कई बहुद्देश्यों के लिए किया जाता है। 

लाभ-सिंचाई, बिजली, उत्पादन बाढ़ नियंत्रण, जल एवं मृदा संरक्षण, मत्सयपालन एवं कृषि के विकास के लिए किया जाता है। 

हानि-वनस्पतियों को और जीवों को नष्ट 
  • कई गाँव जलमग्न हो जाता है। 
  • लोग अपनी आजीविका खो देते हैं। 
  • भूमि कुछ समय के लिए लिये बंजर हो जाता है। 

2.निमनलिखित प्रश्नों के उत्तर लगभग 120 शब्दों में दीजिए। 

(i)राजस्थान के अर्थ शुष्क क्षेत्रों में वर्षा जल संग्रहण किस प्रकार किया जाता है? व्याख्या कीजिए। 

Ans-राजस्थान के अर्थ शुष्क क्षेत्रों में साल में औसतन वर्षा 150 mm से भी कम होती है। इसलिए यहां पर भर पानी का अभाव रहता है। इसे दूर करने के लिए वहां के लोग निमनलिखित तारिक अपनाते हैं-राजस्थान के अर्थ शुष्क क्षेत्रों के प्रत्येक घरों में एक भूमिगत टैंक का निर्माण किया जाता है जिसे टांका कहते हैं और घरों की छतों को ढालवा बनाया जाता है उस छत को पाइप के द्वारा भूमिगत टैंक से जोड़ दिया जाता है बरसात के दिनों में बारिश के पानी को टैंकों में जमा करके रखा जाता है और गर्मी के दिनों में आवश्यकता अनुसार जल का उपयोग किया जाता है। 

(ii)परंपरागत वर्षा जल संग्रहण की पाध्दतियों को आधुनिक काल में अपनाकर जल का संरक्षण एवं भांडारण किस प्रकार किया जाता है? 

Ans-प्राचीन काल में भी लोगों ने जल के महत्व को समझ लिया था इसलिए वे विभिन्न विधियों के द्वारा जल का संग्रहण करते थे वर्तमान समय में भी उन्हीं विधियों में थोड़ा बहुत परिवर्तन करके जल संग्रहण किया जा रहा है जो निम्नलिखित हैं:-

  • कुछ क्षेत्रों में बांस ड्रिप सिंचाई प्रणाली को अपमान जा रहा है। 
  • राजस्थान में जल एकत्रित करने के लिए वर्षा जल का संग्रहण किया जा रहा है। 
  • पहाड़ी क्षेत्रों में पतली नालियां तथा वाहिकाए बनाकर सिंचाई किया जा रहा है तथा पानी को संग्रहित भी किया जा रहा है। 


 हमारें इस पोस्ट को पढ़ने के लिए धन्यवाद। अगर आपको इससे कोई मदत मिली हो तो कमेंट जरूर करें और साथ ही अपने दोस्तों के साथ शेयर भी करें। अगर आप मुझसे जुड़ना चाहते है तो निचे दिए गए link को follow जोर करें।

  • Facebook
  • Instagram
  • YouTube
  • Home


Post a Comment

Previous Post Next Post

Offered

Offered